आगरा: बुजुर्ग को कागज की गड्डी थमाकर 30 हजार रुपये ले गए टप्पेबाज, बैंक के बाहर हुई वारदात


सार

आगरा में टप्पेबाजी की घटनाएं थम नहीं रही हैं। इस बार टप्पेबाजों ने एक बुजुर्ग को टप्पेबाजी का शिकार बनाया। उनसे 30 हजार रुपये लेकर रफूचक्कर हो गए। 

ख़बर सुनें

आगरा के फाउंड्री नगर में भारतीय स्टेट बैंक की शाखा के बाहर मंगलवार को टप्पेबाज गैंग ने 60 वर्षीय रतन सिंह को धोखाधड़ी का शिकार बनाया। वह बैंक से रुपये लेकर निकल रहे थे। तभी दो बदमाशों ने खुले रुपये लेने के बहाने रोक लिया। बातों के जाल में फंसाकर कागज की गड्डी थमाकर 30 हजार रुपये ले गए। आरोपी सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गए। पुलिस उनकी तलाश में लगी है। 

नगला किशनलाल निवासी रतन सिंह घर में निर्माण कार्य करा रहे हैं। मंगलवार को ईंट मंगाई थीं। उन्हें ईंटों का भुगतान करना था। दोपहर में वह रुपये निकालने के लिए फाउंड्री नगर स्थित भारतीय स्टेट बैंक की शाखा में आए थे। बैंक में काफी भीड़ थी। रतन सिंह लाइन में लग गए। डेढ़ घंटे बाद 30 हजार रुपये बैंक से निकल सके। रतन सिंह के पास सौ की एक और दो सौ की एक गड्डी थीं।

खुले रुपये मांगने के बहाने बनाया शिकार

इसके बाद वो बाहर आ गए। तभी दो युवक उनके पास आ गए। एक ने कहा कि हमें खुले रुपयों की जरूरत है। मगर, उनके पास 50 हजार के बंधे रुपये हैं। आप दे देंगे तो कोई दिक्कत नहीं होगी। उन्हें किसी को भुगतान करना है। कहा कि आप हमें 30 हजार रुपये दे दो। 500 के नोट की गड्डी ले लो। उन्होंने एक गड्डी रुमाल में दिखाई, जिसमें आगे की तरफ 500 का नोट लगा था। दोनों युवक रतन सिंह को गड्डी देकर उनसे 30 हजार रुपये ले गए। उन्होंने जैसे ही रुमाल खोला, उसमें कागज निकले। यह देखकर होश उड़ गए।

रतन सिंह शिकायत करने थाना एत्माद्दौला गए। पुलिस ने उन्हें चौकी फाउंड्री नगर भेज दिया। आरोप है कि एक घंटे तक भटकते रहे। इसके बाद पुलिस बैंक लेकर गई। पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। बैंक में दोनों युवक पहले से खड़े हुए नजर आ रहे हैं। सीओ छत्ता सुकन्या शर्मा ने बताया कि मामले में तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज करके कार्रवाई की जाएगी। 

विस्तार

आगरा के फाउंड्री नगर में भारतीय स्टेट बैंक की शाखा के बाहर मंगलवार को टप्पेबाज गैंग ने 60 वर्षीय रतन सिंह को धोखाधड़ी का शिकार बनाया। वह बैंक से रुपये लेकर निकल रहे थे। तभी दो बदमाशों ने खुले रुपये लेने के बहाने रोक लिया। बातों के जाल में फंसाकर कागज की गड्डी थमाकर 30 हजार रुपये ले गए। आरोपी सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गए। पुलिस उनकी तलाश में लगी है। 

नगला किशनलाल निवासी रतन सिंह घर में निर्माण कार्य करा रहे हैं। मंगलवार को ईंट मंगाई थीं। उन्हें ईंटों का भुगतान करना था। दोपहर में वह रुपये निकालने के लिए फाउंड्री नगर स्थित भारतीय स्टेट बैंक की शाखा में आए थे। बैंक में काफी भीड़ थी। रतन सिंह लाइन में लग गए। डेढ़ घंटे बाद 30 हजार रुपये बैंक से निकल सके। रतन सिंह के पास सौ की एक और दो सौ की एक गड्डी थीं।

खुले रुपये मांगने के बहाने बनाया शिकार

इसके बाद वो बाहर आ गए। तभी दो युवक उनके पास आ गए। एक ने कहा कि हमें खुले रुपयों की जरूरत है। मगर, उनके पास 50 हजार के बंधे रुपये हैं। आप दे देंगे तो कोई दिक्कत नहीं होगी। उन्हें किसी को भुगतान करना है। कहा कि आप हमें 30 हजार रुपये दे दो। 500 के नोट की गड्डी ले लो। उन्होंने एक गड्डी रुमाल में दिखाई, जिसमें आगे की तरफ 500 का नोट लगा था। दोनों युवक रतन सिंह को गड्डी देकर उनसे 30 हजार रुपये ले गए। उन्होंने जैसे ही रुमाल खोला, उसमें कागज निकले। यह देखकर होश उड़ गए।

रतन सिंह शिकायत करने थाना एत्माद्दौला गए। पुलिस ने उन्हें चौकी फाउंड्री नगर भेज दिया। आरोप है कि एक घंटे तक भटकते रहे। इसके बाद पुलिस बैंक लेकर गई। पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। बैंक में दोनों युवक पहले से खड़े हुए नजर आ रहे हैं। सीओ छत्ता सुकन्या शर्मा ने बताया कि मामले में तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज करके कार्रवाई की जाएगी। 



Source link

Leave a Comment