Third Party Motor Insurance Premium To Go Up From June 1 Know All Datails Here In Hindi – Motor Insurance Premium: एक जून से कार-बाइक का बीमा कराना होगा महंगा, सरकार के इस फैसले से बढ़ेगा बोझ


सार

Third Party Motor Insurance Premium To Go Up: परिवहन मंत्रालय के मुताबिक, अब 1,000 सीसी से कम क्षमता वाले इंजन के वाहनों को थर्ड पार्टी बीमा के लिए निर्धारित प्रीमियम 2,094 रुपये चुकाना होगा, जो कि 2019-20 में 2,072 रुपये था। इसके अलावा अन्य इंजन क्षमता वाले वाहनों को भी अधिक राशि देनी होगी। 

ख़बर सुनें

वाहन चालकों के लिए बड़ी खबर है, दरअसल उनकी जेब का खर्च बढ़ने वाला है। जी नहीं, हम पेट्रोल और डीजल के दामों की बात नहीं कर रहे हैं, ये बोझ बढ़ने वाला है कार या बाइक के बीमा को लेकर। दरअसल,  1 जून 2022 से आपकी कार समेत अन्य वाहनों का बीमा महंगा होने वाला है। केंद्र सरकार ने बुधवार को थर्ड पार्टी मोटर व्हीकल इंश्योरेंस के प्रीमियम रेट में इजाफा कर दिया है। 

एक जून से प्रभावी होंग नई दरें
केंद्र सरकार की ओर से लिए गए इस फैसले के बाद अब कार के इंजन के हिसाब से बीमा कराने के लिए ज्यादा राशि का भुगतान करना पड़ेगा। इस बढ़ोतरी के संबंध में सड़क एवं परिवहन मंत्रालय की ओर से जारी की गई अधिसूचना के मुताबिक, मोटर इंश्योरेंस के प्रीमियम में इससे पहले साल 2019-20 के लिए बढ़ोतरी की गई थी। इसमें बताया गया कि बीमा प्रीमियम की नई दरें एक जून 2022 से प्रभावी हों जाएंगी।

ऐसे बढ़ेगा वाहन स्वामियों पर बोझ
परिवहन मंत्रालय के मुताबिक, अब 1,000 सीसी से कम क्षमता वाले इंजन के वाहनों को थर्ड पार्टी बीमा के लिए निर्धारित प्रीमियम 2,094 रुपये चुकाना होगा, जो कि 2019-20 में 2,072 रुपये था। इसके अलावा 1,000 सीसी से 1,500 सीसी वाली कारों का थर्ड पार्टी इंश्योरेंस का प्रीमियम 3,221 रुपये से बढ़ाकर 3,416 रुपये किया गया है। 1,500 सीसी से ऊपर वाले वाहनों के लिए थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम में मामूली बढ़ोतरी की गई है और यह 7,890 रुपये की जगह 7,897 रुपये हो गया है।

दोपहिया वाहनों के लिए ये प्रीमियम तय
केंद्र सरकार के अधिसूचना के मुताबिक, सिर्फ चार पहिया वाहनों के लिए ही नहीं, बल्कि दोपहिया वाहनों के लिए भी सरकार ने थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम की दर में बदलाव किया है। अधिसूचना के मुताबिक, एक जून 2022 से 150 सीसी से लेकर 350 सीसी वाली बाइक का प्रीमियम 1,366 रुपये बसूला जाएगा, जबकि 350 सीसी से ज्यादा क्षमता वाले इंजन वाले दोपहिया वाहनों के लिए इंश्योरेंश प्रीमियम 2,804 रुपये फिक्स किया गया है। 

कोरोना के चलते दो साल स्थिर थीं दरें
यहां बता दें कि कोरोना महामारी के कारण दो साल तक प्रीमियम में किसी तरह का कोई भी बदलाव नहीं किया गया था। संशोधित टीपी बीमा प्रीमियम एक जून से लागू होगा। इससे पहले, इन दरों को भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (इरडाई) द्वारा अधिसूचित किया गया था। ऐसा पहली बार है जबकि सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने बीमा नियामक के परामर्श करने के बाद टीपी दरों को अधिसूचित किया है।

हाइब्रिड वाहनों को दी गई बड़ी राहत
मंत्रालय की ओर से जारी अधिसूचना के अनुसार, हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए प्रीमियम पर 7.5 फीसदी की छूट दिए जाने का प्रावधान किया गया है। सरकार ने निजी ई-कार के लिए भी थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम तय करते हुए बताया है कि अब 30 किलोवाट तक क्षमता वाली ई-कार के लिए तीन साल का प्रीमियम 5,543 रुपये होगा, जबकि 30 किलोवाट से 65 किलोवाट के बीच की ई-कार के लिए तीन साल का प्रीमियम 9,044 रुपये और  65 किलोवाट से ज्यादा की क्षमता वाली ई-कार के लिए अब तीन साल का प्रीमियम 20,907 रुपये होग। 

विस्तार

वाहन चालकों के लिए बड़ी खबर है, दरअसल उनकी जेब का खर्च बढ़ने वाला है। जी नहीं, हम पेट्रोल और डीजल के दामों की बात नहीं कर रहे हैं, ये बोझ बढ़ने वाला है कार या बाइक के बीमा को लेकर। दरअसल,  1 जून 2022 से आपकी कार समेत अन्य वाहनों का बीमा महंगा होने वाला है। केंद्र सरकार ने बुधवार को थर्ड पार्टी मोटर व्हीकल इंश्योरेंस के प्रीमियम रेट में इजाफा कर दिया है। 

एक जून से प्रभावी होंग नई दरें

केंद्र सरकार की ओर से लिए गए इस फैसले के बाद अब कार के इंजन के हिसाब से बीमा कराने के लिए ज्यादा राशि का भुगतान करना पड़ेगा। इस बढ़ोतरी के संबंध में सड़क एवं परिवहन मंत्रालय की ओर से जारी की गई अधिसूचना के मुताबिक, मोटर इंश्योरेंस के प्रीमियम में इससे पहले साल 2019-20 के लिए बढ़ोतरी की गई थी। इसमें बताया गया कि बीमा प्रीमियम की नई दरें एक जून 2022 से प्रभावी हों जाएंगी।

ऐसे बढ़ेगा वाहन स्वामियों पर बोझ

परिवहन मंत्रालय के मुताबिक, अब 1,000 सीसी से कम क्षमता वाले इंजन के वाहनों को थर्ड पार्टी बीमा के लिए निर्धारित प्रीमियम 2,094 रुपये चुकाना होगा, जो कि 2019-20 में 2,072 रुपये था। इसके अलावा 1,000 सीसी से 1,500 सीसी वाली कारों का थर्ड पार्टी इंश्योरेंस का प्रीमियम 3,221 रुपये से बढ़ाकर 3,416 रुपये किया गया है। 1,500 सीसी से ऊपर वाले वाहनों के लिए थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम में मामूली बढ़ोतरी की गई है और यह 7,890 रुपये की जगह 7,897 रुपये हो गया है।

दोपहिया वाहनों के लिए ये प्रीमियम तय

केंद्र सरकार के अधिसूचना के मुताबिक, सिर्फ चार पहिया वाहनों के लिए ही नहीं, बल्कि दोपहिया वाहनों के लिए भी सरकार ने थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम की दर में बदलाव किया है। अधिसूचना के मुताबिक, एक जून 2022 से 150 सीसी से लेकर 350 सीसी वाली बाइक का प्रीमियम 1,366 रुपये बसूला जाएगा, जबकि 350 सीसी से ज्यादा क्षमता वाले इंजन वाले दोपहिया वाहनों के लिए इंश्योरेंश प्रीमियम 2,804 रुपये फिक्स किया गया है। 

कोरोना के चलते दो साल स्थिर थीं दरें

यहां बता दें कि कोरोना महामारी के कारण दो साल तक प्रीमियम में किसी तरह का कोई भी बदलाव नहीं किया गया था। संशोधित टीपी बीमा प्रीमियम एक जून से लागू होगा। इससे पहले, इन दरों को भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (इरडाई) द्वारा अधिसूचित किया गया था। ऐसा पहली बार है जबकि सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने बीमा नियामक के परामर्श करने के बाद टीपी दरों को अधिसूचित किया है।

हाइब्रिड वाहनों को दी गई बड़ी राहत

मंत्रालय की ओर से जारी अधिसूचना के अनुसार, हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए प्रीमियम पर 7.5 फीसदी की छूट दिए जाने का प्रावधान किया गया है। सरकार ने निजी ई-कार के लिए भी थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम तय करते हुए बताया है कि अब 30 किलोवाट तक क्षमता वाली ई-कार के लिए तीन साल का प्रीमियम 5,543 रुपये होगा, जबकि 30 किलोवाट से 65 किलोवाट के बीच की ई-कार के लिए तीन साल का प्रीमियम 9,044 रुपये और  65 किलोवाट से ज्यादा की क्षमता वाली ई-कार के लिए अब तीन साल का प्रीमियम 20,907 रुपये होग। 



Source link

Leave a Comment